मन

कभी सोचा है क्यों आपका मन रोता है ?
उसे आज भी किस बात का दुःख होता है ?
नहीं वो चोट नहीं जो उसके घुटने पर लगी 
न ही वो डर है जो तुम्हें भी लगता है 
ये आंसू उस बात का सबूत हैं 
के आज भी वो सिर्फ़ अपनी जननि की याद में 
बिफ़र के रो पड़ता है …..
Advertisements

Leave A Reply...

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s